जॉब नहीं हैं तो आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है ,जाने कैसे ?

एक नई रिसर्च बताती हैं कि अगर आपके पास जॉब नहीं है और आप लंबे समय से खाली बैठे हैं तो आपको हार्टफेल जैसी जानलेवा बीमारी हो सकती हैं.

ये रिसर्च ‘हार्ट फेल्योर 2017’ और ‘चौथे वर्ल्ड कांग्रेस एक्यूट हार्ट फेल्योर’ में पेश की गई थीं. रिसर्च के मुताबिक ये पाया गया कि 20,000 से ज्यादा लोग काम ना होने की वजह हार्टफेल का शिकार हो जाते हैं. इनमें से 50% लोगों की असमय मौत हो जाती है. वहीं हार्टफेल होने की वजह से 12% नौकरीपेशा वर्ग के लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की संभावना बनी रहती हैं.

क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट-

कोपेनहेगन यूनिवर्सिटी अस्पताल डेन्मार्क के चीफ राइटर और डा. रासमस रोइर्थ का कहना हैं कि नौकरी करने की क्षमता हमारी मूल्यवान सेहत की जानकारी और हमारे काम के परफार्मेंस का स्टेटस बताती हैं. डा. रासमस रोइर्थ का ये भी कहना हैं कि लोगों में बढ़ता काम का प्रेशर डिप्रेशन और आत्महत्या जैसी जानलेवा मानसिक समस्‍याओं कोबढ़ावा देता हैं.

इस वजह से होते हैं हार्टफेल का शिकार-

रिसर्च के अनुसार, 18 से 60 साल की उम्र के लोगों में हार्ट फेल्योर जैसी बीमारी मौत की आशंका को और अधिक बढ़ाती है. ये रिसर्च साल 1997 और 2012 के अन्तर्गत हुई हैं. 21,455 मरीज़ दिल का दौरा पड़ने की वजह से और 11,880 मरीज़ 55% काम के बढ़ते प्रेशर की वजह से हार्टफेल जैसी बीमारियों का शिकार बनते हैं.

वहीं 16% नौकरीपेशा लोग और 31% जॉब नहीं करने वाले लोगों की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो जाती हैं, जबकि 40% नौकरी करने वाले लोग और 42% नौकरी नहीं करने वाले लोगों को बार-बार हार्टफेल होने के कारण अस्पताल के चक्कर काटने पड़ते हैं और जिन लोगों पर ज्यादा काम का दबाव नहीं होता हैं उन लोगों के मौत के ज्यादा आसार नहीं होकर
ज्यादातर स्ट्रोक या डायबिटीज़ के लक्षण बने रहते हैं.

Leave a Comment