कुमार विश्वास का केजरीवाल पर हमला, बोले- ‘भ्रष्टाचार मिटाने वाली सरकार भ्रष्टाचार करने वालों पर मौन क्यों’

नई दिल्ली: शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट को लेकर अन्ना हजारे ने कहा कि अऱविंद केजरीवाल ने उनके विश्वास को तोड़कर रख दिया. अब केजरीवाल के एक और खास सहयोगी कुमार विश्वास ने इस मुद्दे को लेकर अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है. कुमार विश्वास ने कहीं भी शुंगलू कमेटी या अरविंद केजरीवाल का नाम नहीं लिया है लेकिन उन्होंने जो बातें कहीं है उससे साफ जाहिर है कि उनके निशाने पर कौन है?

कुमार विश्वास ने अपने एक 13 मिनट के वीडियो में दिल्ली के छोटे सिंहासन पर बैठे अरविंद केजरीवाल के साथ साथ बड़े बड़े सिंहासन मतलब प्रधानमंत्री पद पर बैठे नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा है.

कुमार विश्वास ने कहा, ‘’अगर आप भ्रष्टाचार मुक्ति का पर्व लेकर दिल्ली में सरकार बनाएंगे और उसके बाद आप ही के लोग भ्रष्टाचार के घेरे में होंगे और आप मौन हो जाएंगे और उन्हें बचाने की कोशिश करेंगे तो लोग आपसे सवाल पूछेंगे.’’

भ्रष्टाचार को खत्म करने के वादे के साथ सत्ता में आनेवाली पार्टी मतलब आम आदमी पार्टी! वैसे कुमार विश्वास के अगले बयान से ये साफ हो रहा है कि उनके निशाने पर अरविंद केजरीवाल ही हैं.

कुमार विश्वास ने आगे कहा , ‘’सरकार आनी-जानी हैं. पांच साल- दस सालों इन हवेलियों में महलों में इन सात रेस कोर्स में इन मुख्यमंत्री निवासों में आपकी अस्थियां नहीं गाड़ी जानी.’’

इशारों इशारों में अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कुमार विश्वास ने कहीं भी शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट का जिक्र नहीं किया है लेकिन इसी कमेटी की रिपोर्ट के बाद अरविंद केजरीवाल पर तमाम तरह के भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे हैं.

जेटली के मानहानिक केस में वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी को तीन करोड़ 86 लाख की फीस को लेकर पहले से अरविंद केजरीवाल की तथाकथित सादगी सवालों से घेरे में है.

Leave a Comment