Holi SPL: अगर अंबानी खोलते किराने की दुकान और शाहरुख की होती धर्मशाला…

नई दिल्ली. होली का समय है, और चीजें अस्त-व्यस्त हो गई हैं। हमेशा अपने-अपने कामों में जुटे रहने वाले लोग अचानक से प्रोफेशन बदल कर अलग-अलग क्षेत्रों में चले गए हैं। इन सबके कारण माहौल भी कुछ अलग सा हो गया है। ये समझना मुश्किल हो गया है कि कौन क्या करता मिल जाएगा। अंबानी अब दुकान के भरोसे….

मुकेश अंबानी ने किराने की दुकान खोल ली है। कह रहे हैं डाटा अनलिमिटेड दिया है तो आटा भी देंगे। लेकिन इस बार लाइन नहीं है। फ्री की सिम के लिए तो लाइनें लग सकती हैं क्योंकि आज बिना आटा के गुजारा हो सकता है, बिना डाटा के नहीं। दुकान के बोर्ड पर उन्होंने मेघालय के किसी अंजान नेता की तस्वीर लगा दी है। जाने-पहचाने नेताओं की तस्वीर इस्तेमाल करने के अपने खतरे हैं। ऐसा पहली बार हुआ है कि ये घराना, किराना में उतरा है। आम आदमी की जरूरत समझ रहा है।

शाहरुख की धर्मशाला
किंग खान ने अपने बंगले का निचला हिस्सा किराए पर उठा दिया है। ऐसा करके उन्होंने अमिताभ बच्चन को पीछे छोड़ दिया है, क्योंकि अब “मन्नत’ में “प्रतीक्षा’ संभव है। यहां वो बच्चे रह सकते हैं, जो देशभर से शाहरुख खान बनने आते हैं। इस एक कदम से उन्हें जितनी कमाई हो रही है, करियर की कुल फिल्मों से इतना धन उन्हें नहीं आया था। उनके बंगले पर दीवाली-सा माहौल है, क्योंकि आखिरी जो फिल्म उनकी हमने देखी थी, उसमें वो साधन पर्याप्त थे, जिनसे दीवाली के रॉकेट छोड़े जा सकते हैं।
लालू की आलू फैक्ट्री
लालू यादव ने आलू की फैक्ट्री खोल ली है। ऐसा कर वो लालू और आलू वाली बात को फाइनली सच साबित करना चाहते हैं। बीते दिनों वो एक बड़े से आलू के साथ नज़र भी आए थे, बाद में पता लगा वो आलू नहीं राहुल गांधी का भेजा कोई गिफ्ट था। लालू ने संकेत भी दिए हैं कि अगला कदम ‘नारियल जूस’ की फैक्ट्री डालने का हो सकता है, उन्हें साबित करना है, बिहार किसी मामले में कम नहीं है।
Holi cartoons
श्री श्री रविशंकर की नर्सरी
श्री श्री रविशंकर में यमुना किनारे पेड़-पौधों की नई नर्सरी डाली है। उनकी मानें तो यहां जंगलों जैसा एहसास होता है और एनजीटी को भी इससे आपत्ति नहीं होती। ध्यान रहे एनजीटी की आपत्ति करोड़ों की पड़ती है, अब नर्सरी बीती आपत्ति का हिसाब चुकाने को खुली है, या नया बिजनेस है, ये पता नहीं चल पाया है। नर्सरी के पौधे छोटे होने के कारण पेड़ों के बीच हथियारबंद लोगों के होने का खतरा भी नहीं है।
अरिजीत की आटा चक्की
हर गली में अंदर की ओर तीसरी दुकान आटा चक्की के लिए आरक्षित है। इस बार ऐसी ही एक आरक्षित दुकान अरिजीत सिंह ने भर रखी है। वो दिन गए जब अरिजीत आलू-टमाटर की तरह कहीं भी भर लिए जाते थे। आटा चक्की की दुकान के बाहर बड़ा तराजू भी रखा है, क्योंकि पाले और पलड़े के साथ तोल-मोल का भाव भी अरिजीत को पता लग ही गया है।
Holi cartoons
अमिताभ बच्चन हो गए करियर काउंसलर
बिग बी ने इस होली करियर काउंसलिंग का काम संभाला है, उन्हें लगता है इस काम में वो पारंगत और अनुभवी हो चुके हैं। उनका दावा है वो गधों को भी सही मुकाम तक पहुंचा सकते हैं। बच्चे तो बच्चे, गधे तक राज्यों पर असर डालते हैं, वो भी दो-दो राज्यों पर। युवाओं को वो एक ही सलाह दे रहे हैं, मेहनत का कोई शॉर्ट कट नहीं होता, ऐसा नहीं होगा कि कोई आपसे दस सवाल पूछे और आप एक दिन में ढेर से पैसे कमा लो। हालांकि समस्या एक ही है, बच्चे उनके आगे बैठकर बात करने से कतराते हैं, समस्या हाइट की नहीं फैरनहाइट की है, कहते हैं उनके ऑफिस में भी सीट नहीं हॉट सीट है।
स्वामी ओम एमबीबीएस
बाबा ने नुक्कड़ पर अपना क्लीनिक खोल खुद की असली पहचान एमबीबीएस होना घोषित किया है। स्वामी ओम के क्लीनिक में पहुंचने वालों में ज्यादातर पिछले दिनों बहुत ज्यादा टीवी देखने के रोग से ग्रस्त बताए गए हैं। इन्होंने कोई ख़ास शो देखा है, लगता है। स्वामी ने सारे मरीजों के शर्तिया इलाज का दावा किया है।

Leave a Comment